Heart touching shayari for bewafa girlfriend in hindi | sad love poetry

0

अंधेरे कमरे की दिवारें तक जब चिल्ला चिल्ला कर तुम्हारा ही नाम पुकार कर मुझे चिढ़ाती हैं , जब आँखों के खुलने और बन्द होने के बाद भी सिर्फ तुम्हारा चेहरा दिखता है | जब तड़प कर रूह मेरी बार बार तुम्हारा नाम पुकारती है | जब अरमान मेरे पड़े होते हैं बिस्तर से लुढक कर ठन्डे फर्श पर पढ़े | मेरे खून बहने से ज़्यादा दर्द दे कर निकल रहे आँसुओं से बेखबर तुम होती हो कहीं खिलखिलाती मुस्कुराती , मेरी यादों को एक तरफ किसी बेफिक्री की पोटली में बन्द कर के रख दिया होता है तुमने | तुम्हे खो देने का डर मुझे वैसे ही सताता है जैसे वो बच्चा बेचैन है अपने पिता के दिये एक नये तोहफे के खो जाने से | बन्द कमरे में मेरी तड़प से निकल रही खामोश चीखें अगर कोई सुन पाये तो कलेजा फट जाये | पर तुम बेखबर हो मेरे हाल से और दुआ करता हूँ बेखबर ही रहना क्योंकी ना तुम सह पाओगी ना मैं तुम्हे इस हाल में देख पाऊँगा….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here